Sagittarius

धनु: monday, may 1, 2017 To wednesday, may 31, 2017

धनु: ये महीना कुछ लोगों के लिए सुखदायी रहेगा

खुशी, उमंग, आनंद, महत्वकांशा ये ऐसे भाव हैं जिन्हें आप मई माह की शुरुआत में महसूस कर सकते हैं। दरअसल सूर्य इस समय मेष राशि में होंगे जिसके प्रभाव से आपका भाग्य बुलंदियों पर रहने के आसार हैं। इस समय अपना नाम कमाने व प्रसिद्धि पाने के लिये किये गये प्रयास रंग ला सकते हैं। यदि आप लंबे समय से कहीं बाहर शिक्षा पाने के इच्छुक हैं या फिर अपने ज्ञान के दायरे को बढ़ाना चाहते हैं, जो पहले से शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं वे उसके साथ-साथ कोई अतिरिक्त कोर्स भी कर सकते हैं। कुल मिलाकर इस समय आप जिस भी चीज़ में हाथ डालेंगें उसमें किस्मत आपका साथ दे सकती है। 14 मई को सूर्य मेष राशि से वृषभ में प्रवेश करेंगें इस समय कानूनी मामलों में आपको जीत मिल सकती है। प्रेम संबंध के मामले में आप स्वर्गीय आनंद की अनुभूति ले सकते हैं। आप ज्यादा से ज्यादा समय अपने साथी से साथ व्यतीत कर सकते हैं। बुध के मेष राशि में होने से आपकी अपनी बुद्धि के घोड़े दौड़ाने पड़ सकते हैं। आप अपनी बुद्धि से अपने रोमांटिक जीवन को एक नई दिशा भी दे सकते हैं। इस समय यदि किसी नये साथी की तलाश में आप हैं तो बुध के प्रभाव से ही इस नये संबंध के कारण आपकी अपने दोस्तों अथवा जानकारों के बीच किरकिरी भी हो सकती है। इस समय आप अपने अंदर एक दिलचस्प अहसास का अनुभव कर सकते हैं। एक ऐसा अहसास जिसमें भूख भी है और संतुष्टि भी। यदि कुछ भी भ्रामक लगे तो ऐसी स्थिति में उन चीज़ों को करें जिनसे आपको खुशी मिलती है। इससे आपको अपनी कमियों को दूर करने उनमें सुधार करने की प्रेरणा भी मिलेगी। 31 मई को शुक्र के मेष राशि में आने पर शिक्षा अथवा अभिनय क्षेत्र की ओर अग्रसर हो सकते हैं जो कि स्वाभाविक रूप से भी धनु जातकों की रूचि के क्षेत्र होते हैं।

Virgo

कन्या : monday, may 1, 2017 To wednesday, may 31, 2017

कन्या: कार्यक्षेत्र में कठिन समस्याओं का सामना

क्या आप अस्थिरता महसूस कर रहे हैं? खुद को थका-थका महसूस करते हैं? या फिर तनाव के दौर से गुजर रहे हैं? दरअसल कन्या जातक अपने वातावरण एवं मेष राशि में सूर्य होने से मई माह के आरंभ में काफी संवेदनशील हो सकते हैं। आपके आस-पास के वाले आपसे बदलाव की उम्मीद रख सकते हैं। यह बदलाव अपने घर या दफ्तर में कुछ आरामदायक रंग करवाने या फिर कुछ सज़ावटी पौधे लगाने जैसे छोटे-छोटे बदलावों से लेकर जो जगह आपके अनुकूल हो उसकी तलाश करने जैसे बड़े बदलाव हो सकते हैं। आपकी किस्मत उस समय पलटा खा सकती है जब 14 मई को सूर्य वृषभ राशि में दाखिल होंगे। आपको अपनी विरासत में कुछ मिलने के आसार हैं इसके साथ ही आप यह भी महसूस करेंगें कि आपके मनोबल में वृद्धि हो रही है। अविवाहित कन्या जातक जो अभी तक एकल जीवन व्यतीत कर रहे हैं किसी के प्यार में पड़ सकते हैं, जो पहले से ही किसी के प्रेमपाश में बंधे हैं वे अपने रिश्ते को अगले पायदान पर ले जाने का विचार बना सकते हैं। बसंत ऋतु का समय परिणय-सूत्र में बंधने के लिये आपके लिये बिल्कुल उचित समय हो सकता है। कन्या जातक प्रकृति के हिसाब से तो स्वस्थ होते हैं लेकिन राशि स्वामी बुध के मेष में होने के कारण आपको अपनी सेहत का ध्यान रखने की आवश्यकता है विशेषकर अपने खान-पान पर जरुर ध्यान दें। कार्यस्थल पर जी जान से काम पर ध्यान लगायें, ध्यान केंद्रित कर किये गये प्रयासों के कारण ही आप अपने भविष्य को सुरक्षित कर सकते हैं। प्रेम जीवन के संदर्भ में अविवाहित एकल जातक अपने प्यार की तलाश कर सकते हैं। यदि आपको लगता है कि अपने प्यार को हासिल करने में अभी समय है तो आप किसी नई नौकरी की तलाश कर या फिर किसी नये बिजनेस की शुरुआत कर अपने जीवन में एक नयापन ला सकते हैं। 31 मई को शुक्र का राशि परिवर्तन करना आपके लिये कोई जोख़िम लेकर आ सकता है जिसके कारण हो सकता है आप तनाव और भारी दबाव में भी रहें। धर्य रखें, अपना समय लें और ध्यान, योग आदि क्रियाओं के लिये भी थोड़ा समय निकालें आप महसूस करेंगें कि आप बड़े से बड़े तूफान का सामना करने की हिम्मत रखते हैं।